Header Ads

.

नवादा इंदेपुर गांव में दहशत, छतों पर नजर आए लोग

चौक कोतवाली क्षेत्र के नवादा इंदेपुर गांव में जंगली सुअर के हमले से बुजुर्ग महिला की मौत हो गई थी। महिला की मौत से गांव में दहशत बनी हुई है। मंगलवार को दिनभर गांव में सन्नाटा पसरा रहा। लोगों अपने घरों के दरवाजे के बजाय छज्जों पर नजर आए। बता दें कि तोताराम की पत्नी मुन्नी देवी सोमवार को खेत पर गई थीं। वहां पहले से बैठे जंगली सूअर ने मुन्नी देवी पर हमला कर दिया। जंगली सुअर के हमले से मुन्नी देवी गंभीर रूप से घायल हो गईं थीं। उनकी चीख-पुकार की आवाज पर लोग दौड़ पड़े। उन्हें मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। वहां से उन्हें बरेली रेफर कर दिया गया। रास्ते में उनकी मौत हो गई थी। पुलिस ने शव को सील कर पोस्टमार्टम भेजा। मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद घर पहुंची लाश को देख परिजनों का रो-रोकर हाल बेहाल हो गया। वहीं, दिनभर मुन्नी की मौत की चर्चा होती रही। लोगों ने अपने बच्चों को घर से नहीं निकलने दिया। लोगों के दरवाजे बंद रहे। गलियों में सन्नाटा पसरा रहा। जरुरी काम से ही लोग अपने घरों से निकल। ग्रामीणों का कहना है कि नदी किनारे जंगली सुअर हैं, लेकिन ऐसी घटना पहली बार हुई है, जिससे लोगों में दहशत है। अक्सर लोग खेत पर और नदी किनारे जाते हैं। वहीं, अभी कुछ दिन पूर्व सिंधौली क्षेत्र में जंगली सुअर के हमले से एक की मौत हो चुकी है। कई लोग घायल हो चुके हैं। दहशत बनी हुई है।

No comments