Header Ads

.

केरल में बेकरी संचालक कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए कम से कम से 500 लोगों पर खतरा

इडुक्की
केरल के इडुक्की में एक 39 वर्षीय बेकरी संचालक (Bakery Owner) कोरोना संक्रमित पाया गया है। इसके बाद जिले की दो ग्राम पंचायतों को कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) में बदल दिया गया है। बेकरी संचालक के संपर्क में आ लोगों को ट्रेस करने के लिए सेंटिनेल सर्विलांस (Sentinel Surveillance) के तहत रैंडम टेस्टिंग (Random Testing) की जा रही है। आशंका जताई जा रही है कि कम से कम 500 लोग इस बेकरी संचालक के संपर्क में आए थे। हैरानी की बात यह है कि कुछ दिन पहले तक बेकरी संचालक में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए थे।
इस स्तर पर कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा देखते हुए दुकानदारों, पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों और पत्रकारों की रैंडम टेस्टिंग की जा रही है। बताया गया कि संक्रमित पाए गए शख्स की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे पुट्टड़ी इलाके के तालुक हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया और उसकी पत्नी और बच्चों को क्वारंटीन में भेजा गया।
जिला प्रशासन की अपील- जो बेकरी पर गए हों, खुद ही बताएं
दरअसल, लॉकडाउन में मिली थोड़ी छूट के कारण बेकरी खुली थी। इसीलिए आशंका गंभीर है। क्योंकि प्रतिदिन बेकरी पर सैकड़ों ग्राहक जरूर आते हैं। स्वास्थ्य कर्मचारी अब उन इलाकों में ट्रेसिंग का काम कर रहे हैं, जहां के लोग बेकरी पर आए हो सकते हैं। जिला प्रशासन ने सोशल मीडिया साइट्स पर अपने नंबर शेयर करके अपील की है कि जो भी लोग बेकरी पर गए हों, वे खुद से इस बारे में जानकारी दें।
जानकारी के मुताबिक, अधिकारियों ने बेकरी संचालक के संपर्क में आए करीब 300 लोगों के बारे में जानकारी भी जुटा ली है। फिलहाल अभी तक इन लोगों में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं। जिला प्रशासन अगले हफ्ते से सेंटिनल सर्विलांस की गति को बढ़ाने के बारे में विचार कर रहा है। जिला प्रशासन की ओर से दोनों ग्राम पंचायतों वंदनमेदु और करुणापुरम में पूरी तरह से लॉकडाउन लागू कर दिया है।
केरल में अभी तक कोरोना के 587 केस
केरल में अबतक कोरोना वायरस  से संक्रमण के 587 मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने शनिवार को बताया कि चार मामले त्रिशूर से, तीन मामले कोझिकोड से और दो-दो मामले पल्लकड़ और मलाप्पुरम से आए हैं। उन्होंने बताया कि सभी नए मरीज राज्य से बाहर के हैं। उन्होंने बताया कि सात संक्रमित विदेश से आए हैं जबकि दो-दो तमिलनाडु और महाराष्ट्र से आए हैं।
शैलजा ने बताया कि राज्य में 56,981 लोगों को निगरानी में रखा गया है। उनमें 619 लोगों को विभिन्न अस्पतालों में बने आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है। उन्होंने बताया कि अभी तक 43,669 नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं, जिनमें से 41,814 नमूनों की जांच रिपोर्ट नकारात्मक आई है। केरल में 22 स्थानों को सबसे अधिक संक्रमित स्थल (हॉटस्पॉट) के रूप में पहचान की गई है, जिनमें से छह स्थान शनिवार को जुड़े। नए हॉटस्पॉट में तीन कासरगोड, दो इुडुकी में एक वायनाड में है।

No comments