Header Ads

.

'सैलरी वालों को बड़ी राहत, 25 फीसदी घटाया जाएगा टीडीएस और टीसीएस'

20 लाख करोड़ के राहत पैकेज के रोडमैप को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही हैं। वे प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए इस पैकेज की बारीकियों के बता रही हैं। वह बता रही हैं कि 20 लाख करोड़ का इस्तेमाल किन-किन क्षेत्रों में किया जाएगा और इन्हें कितनी राशि दी जाएगी। इस दौरान सीतारमण ने सैलरी वालों को बड़ी राहत का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि टीडीएस और टीसीएस को 25 फीसदी घटाया जाएगा। सभी तरह के रिफंड मे तेजी लाई जाएगी और सभी इनकम टैक्स रिटर्न 30 नवंबर 2020 तक भरा जाएगा।

सीतारमण ने कहा कि एमएसएमई की परिभाषा बदलने की मांग लंबे समय से हो रही थी। 25 लाख की मैनुफैक्चरिंग यूनिन पहले माइक्रो में आता था. अब इसमें बदलाव किया गया है। स्मॉल में 10 करोड़ का निवेश और 50 करोड़ का टर्नओवर आएगा। अब मीडियम में 20 करोड़ का निवेश और 100 करोड़ का टर्नओवर आएगा।

सीतारमण ने बताया कि अब 1 करोड़ तक का निवेश माइक्रो में ही आएगा। 1 करोड़ निवेश या 5 करोड़ टर्नओवर पर सूक्ष्म उद्योग का दर्जा, 10 करोड़ निवेश या 50 करोड़ टर्नओवर पर लघु उद्योग का दर्जा, 20 करोड़ निवेश या 100 करोड़ टर्नओवर पर मध्य उद्योग का दर्जा दिया जाएगा। 200 करोड़ की सरकारी खरीद के लिए ग्लोबल टेंडर की जरूरत नहीं होगी। ये MSME के लिए बड़ी राहत है. अब उनको व्यापार करने में सहुलियत होगी। लोकल को ग्लोबल बनाने की दिशा में उठाया गया यह कदम है। सभी MSME के लिए ऑनलाइन जोड़ा जाएगा। क्योंकि कोरोना के बाद ट्रेड फेयर का आयोजन करना मुश्किल है।

No comments